भरूच के दर्शनीय स्थल की जानकारी - Best Tourist Place Bharuch In Hindi - Tourist and travel place

Latest

Tourist and travel place

Tourist place, tourist place India, travel, holiday place, best tourist place, tourist and Travel place, holiday place, India history, दर्शनीय स्थल, घूमने की जगह, प्रसिद्ध स्थल, भारत के दर्शनीय स्थल, भारत का इतिहास, पर्यटन स्थल

Thursday, January 30, 2020

भरूच के दर्शनीय स्थल की जानकारी - Best Tourist Place Bharuch In Hindi

भरूच  दर्शनीय स्थल जानकारी - Tourist Place Bharuch
        भरूच गुजरात राज्य का एक जिला है. भरूच जिला खंभात की खाड़ी के किनारे और नर्मदा नदी के सामने स्थित है. इतिहास में यह शहर ब्रोच ओर भृगुकच्छ नाम से जाना जाता था. ओर भरूच में बहुत सारे दर्शनीय स्थल है जिसकी मुलाकात आप ले सकते हैं

         नर्मदा नदी के तट पर बसा हुआ यह शहर 500 ईसा पूर्व पुराना है. यह शहर का पुराना नाम भृगुकच्छ है. यह नाम भृगुऋषि के नाम से रखा गया था. 500 ईसा पूर्व यह जगह लक्ष्मी जी की थी. भृगुऋषि ने इस जगह पे रहने के लिए अनुमति ली. बाद में यहां पर आश्रम की स्थापना की. भृगुऋषि ने यह आश्रम कभी नहीं छोड़ा था.  नर्मदा नदी के किनारे भृगुऋषि का आश्रम स्थित है.

         या शहर का बंदरगाह गुजरात का सबसे पुराना बंदरगाह है. यह बात यूरोप और इथोपिया व्यापारी भी जानते थे. यहां से भारत के पश्चिम के राज्यों के साथ व्यापार होता था. यहां से दक्षिण भारत, इजिप्ट और अरब देशों से व्यापार होता था. पहले के जमाने में भरुच का बंदरगाह बहुत बड़ा था. अरबस्तान और खाड़ी के देश भी यहां पर व्यापार करने आते थे. पर्वत मौर्य वंश, गुप्त वंश और गुर्जरों के शासनकाल के नीचे रहा था.

        भारत में बहुत सारे घूमने के स्थल भी है जिसकी मुलाकात आप ले सकते हैं तो फिर चलिए आज मैं आपको भरुच के दर्शनीय स्थल की जानकारी दूंगा.


1:- गोल्डन ब्रिज - Golden Bridge Bharuch In Hindi                      

Golden Bridge
         गोल्डन ब्रिज गुजरात के भरूच जिले में नर्मदा नदी के ऊपर बनाया गया है. यार ब्रिज भरूच और अंकलेश्वर को जोड़ता है. यह ब्रिज का निर्माण 1881 में अंग्रेजों के शासन काल में किया गया था. मुंबई के व्यापारियों को बेहतर पहुंच के लिए एक ब्रिज की जरूरत थी तब नर्मदा पर यह ब्रिज का निर्माण किया गया. इसे नर्मदा ब्रिज भी कहा जाता है.

       ब्रिटिश ने 7 सितंबर 1877 को पुल का निर्माण कार्य शुरू किया था. या पुल बनने में 5 साल लगे थे. उस समय यह ब्रिज बनाने में 45.65 लाख रुपए की लागत आई थी. भारी खर्च के कारण इस ब्रिज को गोल्डन ब्रिज के नाम से जाना जाने लगा. बीच की लंबाई 1412 मीटर है. अब गोल्डन ब्रिज भरूच भरूच के मुख्य आकर्षण केंद्रों में से एक है. यह भरुच का सबसे अच्छा दर्शनीय स्थल है.

2:- महर्षि भृगुऋषि मंदिर - Maharishi Bhrigurushi Temple in Hindi                         Maharishi Bhrigurushi Temple

           महर्षि भृगुऋषि का मंदिर भरूच में नर्मदा नदी के किनारे स्थित है. भरुच को पहले भृगुकच्छ के नाम से जाना जाता था. नर्मदा नदी के किनारे बहुत ही खूबसूरत और भव्य मंदिर स्थित है. भरूच को महर्षि भृगुऋषि ने ही निर्माण किया था. 500 ईसा पूर्व पुराना यह शहर भृगुऋषि ने निर्माण किया था. यह नर्मदा नदी किनारे बसा मंदिर वास्तुकला का बहुत ही उत्तम नमूना है. यहां से आप नर्मदा नदी का बहुत सुंदर नजारा भी देख सकते हैं. यह भरुच का सबसे अच्छा दर्शनीय स्थल है.

3:- स्वामीनारायण मंदिर - Swaminarayan Temple Bharuch in Hindi

                       
स्वामीनारायण मंदिर, Swaminarayan Temple Bharuch
         स्वामीनारायण मंदिर जड़ेश्वर चौकड़ी भरूच में स्थित है. यह मंदिर बहुत ही सुंदर मंदिर है. स्वामीनारायण संप्रदाय को समर्पित है. अगर आप शांतिप्रिय वातावरण को पसंद करते हैं. तो आप यहां पर समय व्यतीत करने जा सकते हैं. और भगवान स्वामीनारायण ने के दर्शन भी कर सकते हैं. यहां पर एक बहुत बड़ा और सुंदर गार्डन है आप वहां पर बैठकर वहां के नजारों का आनंद ले सकते हैं. मंदिर में आप खाना भी खा सकते हैं खाने की सुविधा भी उपलब्ध है. पर आप आराम भी कर सकते हैं. स्वामीनारायण मंदिर भरूच में बहुत ही अच्छी जगह है. घूमने के लिए एक बार स्वामीनारायण मंदिर की मुलाकात जरूर करें.

4:- नीलकंठेश्वर महादेव मंदिर - neelkantheshwar mahadev temple in Hindi

                      
नीलकंठेश्वर महादेव मंदिर, neelkantheshwar mahadev
           नीलकंठेश्वर महादेव मंदिर भरूच में नर्मदा नदी के किनारे पर स्थित है. यह मंदिर भगवान शिव को समर्पित है. यह मंदिर बहुत ही सुंदर और रा लाल कलर में दिखता है. यहां पर बहुत ही शांत वातावरण होता है. आप शांतिप्रिय वातावरण में समय बिताना चाहते हैं. तो यह बहुत ही अच्छा विकल्प है. यहां से आपको नर्मदा नदी का बहुत ही सुंदर नजारा देखने को मिलेगा. आप यहां पर बैठकर फोटोग्राफी भी कर सकते हैं. और यह जगह पिकनिक के लिए बहुत अच्छी है.

5:- निनाई धोध - Ninai Falls In Hindi

           
निनाई धोध, Ninai Falls
         निनाई धोध नर्मदा का डेडियापाड़ा तालुका में स्थित है. डेडियापाड़ा  के शीशी गांव के पास में यह धोध स्थित है. यहां से आपको 4 किलोमीटर दूरी पर यह धोध है. आपको यहां तक जाने के लिए पैदल जाना पड़ेगा. प्रकृति के बीच में यह बहुत ही सुंदर जगह है. यह तो 30 फुट से भी ऊंचा है. यहां पर बहुत ही सुंदर नजारा दिखता है. पिकनिक के लिए भी यह जगह बहुत ही सुंदर है. आप यहां पर नहाने का और इस सुंदर नजारे को देखने का आनंद ले सकते हैं.

6:- झरवानी वाटरफॉल - Zarwani Waterfalls In Hindi

     
 Zarwani Waterfalls
        झरवानी वॉटरफॉल नर्मदा से 28 किलोमीटर की दूरी पर स्थित है. यह वॉटरफॉल शूलपनेश्वर वन्यजीव अभयारण्य में स्थित है. आप यहां पर फ्रेंड्स फैमिली के साथ पिकनिक मनाने के लिए भी जा सकते. यह वॉटरफॉल गाढ जंगल में स्थित है. यहां पर मोबाइल फोन काम नहीं करते. प्रकृति के बीच में आपका समय व्यतीत करना चाहते हैं. तो यह बहुत ही सुंदर जगह है. यहां पर बहुत सारे पर्यटक प्रकृति को देखने के लिए आते हैं. शूलपनेश्वर वन्यजीव अभयारण्य यहां पर बहुत अच्छी व्यवस्था की है पर्यटकों के लिए. आप भी एक बार इस वाटरफॉल की मुलाकात जरूर करें.

7:- नर्मदा पार्क - Narmada Park In Hindi


                       
Narmada Park
          नर्मदा पार्क भरूच स्थित नर्मदा नदी के पास में स्थित है. यह बहुत ही सुंदर जगह है. यहां पर चारों ओर आपको सिर्फ हरियाली ही हरियाली दिखेगी. यहां पर बच्चों के लिए भी एक छोटा-सा पार्क है. आप फ्रेंड्स या फैमिली के साथ कहीं पर समय बिताना चाहते हैं. तो यह जगह आपके लिए बहुत ही अच्छी है. यहां पर बहुत ही सुंदर नजारा दिखता है. नर्मदा पार्क में एक स्विमिंग पूल भी है. गर्मियों के मौसम में आपकी यहां पर स्विमिंग पूल में तैरने का आनंद ले सकते हैं. यह जगह बहुत ही सुंदर है आप  नर्मदा जाए तो एक बार नर्मदा पार्क की मुलाकात जरूर करें.

8:- गायत्री माता मंदिर - gaytri temple in Hindi

                   
गायत्री माता मंदिर, gaytri temple
        गायत्री माता का मंदिर भरूच में नर्मदा नदी के किनारे पर स्थित है. बिल्कुल नर्मदा नदी के सामने है यह मंदिर स्थित है. यहां पर बहुत सारे श्रद्धालु दर्शन करने और यहां के सुंदर नजारे का आनंद लेने आते हैं. यह मंदिर बहुत पुराना मंदिर है. यहां से नर्मदा का सरदार ब्रिज भी दिखता है. बहुत ही सुंदर और आकर्षक स्थल है. भरूच जाए तो यह मंदिर के दर्शन एक बार जरूर करें.

9:- सरदार पुल भरूच - Sardar Bridge In Hindi                     

Sardar Bridge
           सरदार पुल में नर्मदा नदी के ऊपर स्थित है. या पुल  भरूच में स्थित है. या कुल 1.4 किलोमीटर लंबा है. यह पुल NH8 मार्ग को जोड़ता है. यह फोर लाइन ब्रिज वडोदरा और सूरत को जोड़ने का काम करता है. यह भारत का सबसे लंबा वायर्ड ब्रिज है.  यह ब्रिज 521 मीटर विद्यासागर सेतु पुव कोलकाता से बड़ा है. ब्रिज बनाने में 379 करोड़ का खर्चा हुआ था. सरदार पुल का उद्घाटन नरेंद्र मोदी ने किया था. यह पुल देखने के लिए बहुत सारे पर्यटक भरूच आते हैं. आप भी एक बार इस पुल की मुलाकात जरूर ले.

10:- शूलपाणेश्वर वन्य जीव अभ्यारण्य - Shoolpaneshwar National Park in Hindi

             
Shoolpaneshwar National Park
          शूलपाणेश्वर वन्य जीव अभ्यारण नर्मदा जिले में स्थित है. यह अभ्यारण 607.70 वर्ग किलोमीटर में फैला हुआ है. यह जगह बहुत ही सुंदर है. प्रकृति प्रेमी हो और वन्यजीवों को देखने का शौक है. तो आप इस अभ्यारण में जा सकते हैं. यह जगह पिकनिक मनाने के लिए भी बहुत अच्छी है. यहां पर आपको बहुत सारे जानवर देखने को मिलेंगे जैसे कि भालू, तेंदुआ, मकाक पोपट, बार्किंग डियर, छिपकली, बहुत सारे जानवर यहां पर आपको देखने को मिलेंगे.

       यह वन्यजीव में पुष्प और पौधों की 575 प्रजातियां हैं. यह जगह वाइल्डलाइफ सा प्रेमियों के लिए बहुत ही अच्छी है आपका नर्मदा या फिर भरूच आइए तो एक बार इस पर्यटक स्थल की मुलाकात जरूर लें.

11:- कड़िया डूंगर गुफाएं - Kadia Dungar Caves In Hindi

                       
Kadia Dungar Caves
         कड़िया डूंगर गुफाएं गुजरात के भरूच जिले के झगड़िया तालुका में स्थित एक छोटा सा डूंगर है. यह पत्थर से बनी हो गुफा बहुत ही प्राचीन है. कड़िया डूंगर में 7 गुफाएं हैं जो पत्थर के अंदर बनाई गई है. इसमें एक सिंह स्तंभ भी है. यह प्रकृति और मानव निर्मित कला का सबसे उत्तम नमूना है. इन गुफाओं को बनाने में नुकीले हथियारो का इस्तेमाल किया गया था. इन गुफाओं में बौद्धो के अवशेष देखने को मिलते हैं. इन गुफाओं का इस्तेमाल बुद्ध भिक्षुओं ने किया था. इन गुफाओं का निर्माण पहली और दूसरी शताब्दी के बीच में किया गया है.

        यह भरूच का सबसे अच्छा दर्शनीय स्थल है. यहां पर बहुत सारे पर्यटक इन गुफाओं को देखने के लिए आते हैं आप भी नर्मदा आए तो एक बार इन गुफाओं की मुलाकात जरूर करें.

12:- मातरिया तालाब - matariya lake in Hindi

                     
matariya lake
           मातरिया तालाब भरूच में स्थित है. यह जगह भरूच के मुख्य आकर्षण केंद्रों में से है. यह बहुत ही सुंदर और एक बड़ा तालाब है. यहां पर बहुत सारे आयोजन होते हैं. यहां पर लाइट सो होती है. जिसमें भरूच के इतिहास के बारे में बताया जाता है. बहुत ही सुंदर नजारा होता है और यहां पर बहुत सारे पर्यटक घूमने के लिए भी आते हैं. अभी एक बार भरूच जाइए तो इस तालाब की मुलाकात जरूर करें.

13:- नर्मदा माता का मंदिर  - Narmada Temple In Hindi

                 
नर्मदा माता मंदिर
           नर्मदा माता का मंदिर नर्मदा नदी के किनारे पर स्थित है. जो की भरूच में है. यह मंदिर हिंदू की आस्था के साथ जुड़ा हुआ है. नर्मदा माता का महत्व बहुत ही है हिंदू धर्म और पुराणों में भी इसका उल्लेख मिलता है. नर्मदा माता के दर्शन करने के लिए हर साल बहुत सारे श्रद्धालु भरूच आते हैं. आप भी एक बार नर्मदा माता के दर्शन जरूर करें.

14:- भरूच किला - Bharuch Fort In Hindi

                   
भरूच किला, Bharuch old Fort
        भरूच किला एक पहाड़ी की चोटी पर स्थित है. यहां से नर्मदा नदी का सुंदर दृश्य दिखता है. भरूच किला भरूच का मुख्य आकर्षण केंद्र है. इसका निर्माण 1791 में सिद्धराज जयसिंह द्वारा किया गया था. जो सोलंकी वंश के शासक थे. यह एक मंजिला किला है. किले के ऊपर एक छोटा सा कमरा है यहां पर माचिस की बंदूके रखी जाती है. किले का मुखौटा लकड़ी की नक्काशी करके बनाया गया है.

      किले के भीतर कलेक्टर कार्यालय, सिविल कोर्ट, पुराना डच कारखाना, विक्टोरिया क्लॉक टावर और अन्य इमारतें स्थित है. यहां पर हर साल बहुत सारे पर्यटक इस किले को देखने के लिए आते हैं.

15:- जामा मस्जिद - Jama Masjid Bharuch In Hindi

                   
Jama Masjid Bharuch
          जामा मस्जिद भरूच किले की पहाड़ी पर स्थित है. या मस्जिद का निर्माण 14 वी शताब्दी में किया गया. जामा मस्जिद का निर्माण प्राचीन जैन मंदिरों के अवशेषों से किया गया. तीन तरफ गेट और पश्चिम में अभ्यारण के साथ एक आंगन हैं. यह बहुत ही पुरानी मस्जिद है. जो भरूच के इतिहास के साथ जुड़ी हुई है. यहा पर मस्जिद और भरूच किला देखने के लिए  बहुत सारे लोग आते हैं.


• भरूच कैसे पहुंचे - How To Reach Bharuch In Hindi


    : हवाई मार्ग से भरूच कैसे पहुंचे - How To Reach Bharuch By Flight In Hindi


India Flight
       पर उसका खुद का कोई रिपोर्ट नहीं है. लेकिन आप सूरत या वडोदरा से फ्लाइट लेकर भरूच पहुंच सकते हैं. सूरत से भरूच की दूरी 76 किलोमीटर और वडोदरा से 79 किलोमीटर दूर है. बाद में आप पर बड़ोदरा या सूरत से प्राइवेट टैक्सी या ट्रेन से भी सीधे पर पहुंच सकते हैं.

       : ट्रेन से भरूच कैसे पहुंचे - How To Reach Bharuch By Train In Hindi


India Bharuch Train
        भरुच का रेल कनेक्शन सभी मुख्य रेलवे स्टेशन से अच्छी तरह से जुड़ा हुआ है. अहमदाबाद सूरत मुंबई राजकोट दिल्ली सभी मुख्य रेलवे स्टेशन से जुड़ा हुआ है. ट्रेन से आप सीधे भरूच बन सकते हैं. कम खर्चे में आप ट्रेन से सीधे भरूच में पहुंच सकते हैं.

         : मार्ग से भरूच कैसे पहुंचे - How To Reach Bharuch By Road


India road
       भरूच का मार्ग परिवहन बहुत अच्छा है और वह सभी मुख्य शहरों से जुड़ा हुआ है. आप प्राइवेट टैक्सी ले सकते हैं यह सरकार द्वारा बस चलती है उसके द्वारा भी आप भरूच पहुंच सकते हैं. भरूच वडोदरा मुंबई राजकोट अहमदाबाद सभी मार्ग परिवहन से जुड़ा हुआ है. भरुच का मार्ग बहुत ही अच्छे हैं जो आपका सफर बहुत ही आरामदायक रहेगा.
        

No comments:

Post a Comment

Give me your feedback